Connect with us

देहरादून

ब्रेकिंग: BOCW बोर्ड से डॉ हरक सिंह के बाद अब दमयंती का भी पत्ता साफ

पंकज रतूड़ी। देहरादून। भवन निर्माण एवं कर्मकार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद से डॉ हरक सिंह रावत को पहले हटाया गया। उसके बाद कैबिनेट मंत्री डॉ हरक सिंह रावत की बेहद करीबी माने जाने वाली दमयंती रावत को भी बोर्ड के सचिव पद से हटाये जाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

खास बात यह है कि एक तरफ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और हरक सिंह रावत की सचिवालय में मुलाकात हुई है, तो दूसरी तरफ हरक सिंह रावत की करीबी रही बोर्ड की सचिव दमयंती रावत को बोर्ड के नए अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल ने हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  राहतः उत्तराखंड में आने के लिए बदल रहे है नियम, अब ऐसे मिलेगी राज्य में एंट्री...

जानिए कौन हैं दमयंती रावत

दमयंती रावत मूल रूप से शिक्षा विभाग में खंड शिक्षा अधिकारी हैं। वर्ष 2012 में प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में आई तो हरक सिंह रावत के कृषि मंत्री बनने के बाद सहस पुर में तैनात दमयंती रावत ने कृषि विभाग में दमयंती रावत के लिए बकायदा विशेष कार्याधिकारी का निसंवर्गीय पद ग्रेड वेतन 8700 स़ृजित किया गया और इस पर प्रतिनियुक्ति के जरिए दमयंती रावत की ताजपेाशी की हुई। तत्कालीन शिक्षा मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी ने एनओसी देने से मना कर दिया था।

यह भी पढ़ें 👉  ACCIDENT: यहां तेज रफ्तार ने लील ली देहरादून के दो सगे भाईयों की जिंदगी, मचा कोहराम....

लेकिन दमयंती रावत बेरोकटोक प्रतिनियुक्ति पर आ गई। यही नहीं कुछ समय बाद उनका ओहदा बढ़ाकर उन्हें कृषि विभाग में उत्तराखंड बीज एवं जैविक प्रमाणीकरण अभिकरण के निदेशक पद पर तैनात कर दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  शुरुआत: अब गढ़वाली,कुमाऊं और जौनसारी भाषा का भी होगा इस विश्वविद्यालय में कोर्स, पढ़िए...

जिसके बाद साल 2016 में सत्ता के समीकरण गड़बड़ाए और मंत्री हरक सिंह रावत को अपनी विधायकी से हाथ धोना पड़ा, तो इसका असर दमयंती रावत पर भी पड़ा।

Latest News -
Continue Reading

More in देहरादून

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
2 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap