Connect with us
download 1 1

उत्तराखंड

रोजी रोटी के लिए मोहताज बलेश्वर स्वास्थ्य केंद्र के उपनल कर्मी। बेखबर प्रशासन

ezgif.com resize

ajax loader

UT- जहां आदर्श राज्य का कर्तव्य नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं प्रदान कराना है वहीं दूसरी ओर सरकार का दूसरा ही चेहरा सामने आ रहा है।

ताजा प्रकरण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बलेश्वर का है जहां उपनल के तहत नियुक्त छह कर्मचारी विगत 2 वर्षों से अपने वेतन का इंतजार कर रहे हैं।

अस्पताल के पीपीपी मोड़ पर जाने के बाद इन कर्मचारियों को अन्यत्र समायोजित नहीं किया गया।

और नहीं ने हटाने का आदेश दिया गया लिहाजा ये कर्मचारी विगत दो वर्षों से हमेशा नियमित अपनी सेवाएं स्वास्थ्य विभाग को दे रहे हैं

इस संबंध में कई बार उच्चाधिकारियों से पत्राचार कर चुके है। परंतु बार-बार ने संबंधित अधिकारियों द्वारा झूठाआश्वासन देकर देकर वापस भेजा जाता है।

कर्मचारियों ने कहा कि वह दैनिक रूप से वे उपस्थिति पंजिका में अपनी दैनिक उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं।

सम्बन्धित विभाग 2 वर्षों से अपनी आंखें मूंदे हुए हैं। कर्मचारी विश्वनाथ कोठियाल धीरज रावत चमन लाल नरेश कुमार विजेंद्र लाल और पंकज कुमार का कहना है कि विगत डेढ़ साल से बिना वेतन के अस्पताल में अपनी सेवाएं दे रहे हैं

एवं आज तक भी उनका नवीनीकरण किया गया और नहीं उनका समायोजन अन्य किसी अस्पताल में किया गया जिसके कारण उनके समक्ष गंभीर आर्थिक संकट आ गया है और उनके सामने रोजी-रोटी की समस्या पैदा हो गई है

यदि शासन शीघ्र नवीनीकरण के साथ उनका पिछला वेतन नहीं देता है तो अपने मौलिक अधिकारों की रक्षा के लिए वे पूरे परिवार के साथ सीएमओ कार्यालय नयी टिहरी में धरने पर बैठेंगे।

Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap