देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को बैठक में आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की भांति आशा फैसिलिटेटर को भी दो ₹2000 सम्मान निधि के रूप में देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सम्मान राशि लाभार्थी के खाते में जल्द डाली जाए। कॉविड वॉरियर्स की […]" /> देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को बैठक में आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की भांति आशा फैसिलिटेटर को भी दो ₹2000 सम्मान निधि के रूप में देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सम्मान राशि लाभार्थी के खाते में जल्द डाली जाए। कॉविड वॉरियर्स की […]"> शानदार पहल: आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री का तोहफा, कोरोना वॉरियर्स की मौत पर 10 लाख देने की घोषणा। » Uttarakhand Today News
Connect with us
1595818912079
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

उत्तराखंड

शानदार पहल: आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री का तोहफा, कोरोना वॉरियर्स की मौत पर 10 लाख देने की घोषणा।

ezgif.com resize

ajax loader

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को बैठक में आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की भांति आशा फैसिलिटेटर को भी दो ₹2000 सम्मान निधि के रूप में देने का फैसला लिया है।

मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सम्मान राशि लाभार्थी के खाते में जल्द डाली जाए। कॉविड वॉरियर्स की मृत्यु पर भी मुख्यमंत्री ने राहत कोष से ₹100000 देने की घोषणा की है इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने होम आइसोलेशन हेतु निर्देश पुस्तिका का भी विमोचन किया।

उन्होंने कहा कि डाॅक्टर की टीम की जांच एवं मानकों के हिसाब से ही होम आइसोलेशन की व्यवस्था की जाय। होम आइसोलेशन के बजाय अस्पताल एवं कोविड केयर सेंटर को प्राथमिकता दी जाय।

मास्क का उपयोग न करने वालों पर 200 रुपए जुर्माना

सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग न करने  एवं नियमों को उल्लंघन करने पर पहली बार में 200 एवं दूसरी बार उल्लंघन करने पर 500 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। हाई रिस्क ऐरिया से या अन्य राज्यों से जो लोग आ रहे हैं, उनमें से यदि कोई व्यक्ति ट्रेवल हिस्ट्री की गलत जानकारी दे रहा है, या कोई तथ्य छुपा रहा है, उन पर सख्त कारवाई की जाय। मुख्यमंत्री ने शनिवार को सचिवालय में कोविड-19 के संक्रमण तथा बचाव हेतु स्वास्थ्य विभाग एवं जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की।

‘टेस्टिंग बढ़ाएं और सर्विलांस सिस्टम को मजबूत करने की जरूरत’

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की सैंपल टेस्टिंग और अधिक बढ़ाई जाय। सर्विलांस सिस्टम को और मजबूत करने की जरूरत है। बुजुर्ग, बच्चे एवं को-माॅर्बिड लोग अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें। कोविड रिकवरी रेट में सुधार एवं मृत्युदर को कम करने हेतु हर सम्भव प्रयास किए जाय। सीनियर डाॅक्टर अस्पताल में भर्ती कोविड मरीजों की पर्सनल केयर करें। जिलाधिकारी, सीडीओ एवं सीएमओ भी इसकी माॅनेटरिंग करें। यह सुनिश्चित किया जाय कि ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम ही प्रत्येक जिले में पर्याप्त व्यवस्था हो। सतर्कता के साथ और कैपिसिटी बढ़ाने की आवश्यकता है। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि जो लोग प्राइवेट लैब में कोविड सैंपल टेस्टिंग करा रहे हैं, यह सुनिश्चित करा लें कि प्रत्येक व्यक्ति का पता एवं मोबाईल नम्बर सही हो। 

‘यूएस नगर, हरिद्वार और नैनीताल में विशेष ध्यान दें’

मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने कहा कि सभी जिलाधिकारी कोविड से निपटने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण रखें। सैंपल टेस्टिंग में और तेजी लाई जाय। यह भी सुनिश्चित किया जाय कि टेस्टिंग रिपोर्ट जल्द आ जाय। इंडस्ट्रियल ऐरिया वाले जनपदों में इंडस्ट्री में सैंपल टेस्टिंग में और तेजी लाई जाय। उधमसिंह नगर, नैनीताल एवं हरिद्वार जनपद में विशेष सतर्कता की आवश्यकता है।

Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap