Connect with us
1596602008596

उत्तराखंड

कांग्रेस: राम मंदिर निर्माण का श्रेय कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट को दिया, कांग्रेस दिग्गजों की बयानबाजी

WhatsApp Image 2020 09 16 at 10.00.24

ajax loader

देहरादून। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को आज भूमि पूजन है। इस पूरे आयोजन को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में खुशी है। हो भी क्यों न वर्षों से लंबित इस प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला भाजपा की झोली में डाल दिया।

जिसको लेकर लंबित इस मामले पर अब निर्माण की नींव रखी जा रही जा। लेकिन इस पूरे प्रकरण पर अपनी चुप्पी साधे कांग्रेस ने अब बयान देने शुरू कर दिए हैं। प्रदेश कांग्रेस के दिग्गजों ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण ने सूबे की सियासत को गर्मा दिया है। राम मंदिर निर्माण को बुधवार को भूमि पूजन को लेकर प्रदेश सरकार व भाजपा ने जहां दीपोत्सव कार्यक्रम रखा है, वहीं प्रदेश में कांग्रेस ने इस मुद्दे पर चुप्पी तोड़ी है।

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने राम मंदिर निर्माण को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए देश की जनता को इस शुभ अवसर पर बधाई दी। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भगवान राम में हमारी भी आस्था है।

आम जन भावना से जुड़े राम मंदिर के मुद्दे से अमूमन कन्नी काटने वाली कांग्रेस के प्रदेश नेता भी बहुत संभल कर बयानबाजी करते रहे हैं। भाजपा के रुख के जवाब में पूरी तरह चुप्पी साधना भारी न पड़े, इसे लेकर प्रदेश में भी कांग्रेस नेताओं में बेचैनी साफ दिख रही है। नतीजतन मंगलवार को नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश ने भी वक्तव्य जारी किया।

अपने बयान में उन्होंने राम मंदिर निर्माण का श्रेय भाजपा या केंद्र की सरकार के बजाय सुप्रीम कोर्ट को दिया। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के एतिहासिक निर्णय अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ। इस अवसर पर हम सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत करते हुए उन्होंने जनता को इस शुभ अवसर पर बधाई दी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भगवान राम किसी एक राजनीतिक दल के नहीं हैं। उनके मंदिर का शिलान्यास हो रहा है, यह खुशी की बात है। भगवान राम में हमारी भी आस्था है। प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने अयोध्या में राम मंदिर स्थापना समारोह में विपक्ष के नेताओं को नहीं बुलाने के लिए केंद्र सरकार की आलोचना की।

प्रदेश महामंत्री विजय सारस्वत ने राम मंदिर की तर्ज पर सड़क चौड़ीकरण की वजह से हटाए गए मंदिरों की स्थापना के लिए भूमि देने की मांग सरकार से की।

इनकी भी सुनिए
ये वही कांग्रेस है जिन्होंने भगवान राम को एक काल्पनिक भावना बताया था। आज जब नरेंद्र मोदी के इस अभियान और सुप्रीम कोर्ट का फैसला भाजपा के पक्ष में आया तो सब मे बौखलाहट मच गई है। भाजपा समर्थक सुंदर रुडोला का कहना है कि भारत एक आस्था और आध्यात्मिक देश है।

IMG 20200805 WA0008
भाजपा समर्थक सुंदर रुडोला

लिहाजा राम मंदिर निर्माण को लेकर भाजपा की यह कोशिश सफल हुई। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का आभार जताया। कहा कि नरेंद्र मोदी स्वयम आध्यात्मिक पुरुष हैं। उनके इस सफल प्रयास से आज जनमानस की आस्था को और अधिक बल मिला है। वंही कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस बौखला गई है। राम मंदिर निर्माण पर कांग्रेस ने यही प्रतिस्पर्धा रखी कि यह फैसला उनकी झोली में जाय।

लेकिन कांग्रेस 60 सालों में इस ऐतिहासिक कार्य को नही कर पाई। लिहाज उन्हें सुप्रीम कोर्ट का मजबूरी में आभार व्यक्त करना पड़ रहा है।

Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश
To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap