Connect with us
1599452666165

उत्तराखंड

गजब: एक ही महिला की कोरोना रिपोर्ट अलग अलग, सवालों के घेरे में स्वास्थ्य विभाग

WhatsApp Image 2020 09 16 at 10.00.24

ajax loader

देहरादून। नगर पालिका ढालवाला-मुनिकीरेती क्षेत्र में प्रशासन की ओर से की जा रही कोविड जांच सवालों के घेरे में आने लगी है। दरअसल यहां एक महिला की दो दिन में अलग-अलग कोविड रिपोर्ट सामने आई है।

प्रशासन की ओर से किए कोविड टेस्ट में महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव, जबकि निजी पैथोलॉजी लैब में यह रिपोर्ट निगेटिव आई है।

इससे प्रशासन समेत स्थानीय लोग अचरज में हैं। आलम यह है कि अब यहां लोगों का प्रशासन की ओर से किए जाने वाले कोविड टेस्ट से भरोसा उठने लगा है।

गौरतलब है कि जिलाधिकारी टिहरी के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग फकोट की ओर से नगर पालिका ढालवाला-मुनिकीरेती क्षेत्र में प्रत्येक व्यक्ति का कोविड टेस्ट लिया जा रहा है।

जिसमें अब तक कई लोगों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है। प्रशासन की ओर इन लोगों को ऋषिलोक, जीएमवीएन में बने कोविड सेंटर में आइसोलेट किया जा रहा है।

इसके अलावा भी लोगों को उनके घरों में ही होम क्वारंटीन किया जा रहा है। मगर रविवार को एक अजीबोगरीब मामला सामने आया। वार्ड आठ में रहने वाली एक महिला की दो दिन में अलग-अलग कोविड रिपोर्ट आई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीती 28 अगस्त को वार्ड आठ में रहने वाली इस महिला का स्वास्थ्य विभाग ने कोविड टेस्ट लिया। जिसकी रिपोर्ट एक सितंबर को पॉजिटिव आ गई।

यह देख महिला के पति ने अपना कोविड टेस्ट कराने के लिए देहरादून रोड स्थित एक निजी डाइग्नोस्टिक लैब की ओर दौड़ लगाई। इस दौरान उसने यहां अपनी पत्नी का भी कोविड टेस्ट कराया।

जिसमें अगले दिन दोनों की कोविड रिपोर्ट निगेटिव आ गई। शीघ्र ही यह खबर क्षेत्र में आग की तरह फैल गई । इसके बाद रविवार को जब प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग पुनः महिला का कोविड टेस्ट करने के लिए पहुंचा।

तो महिला और उसके पति ने कोविड टेस्ट करवाने से साफ इंकार कर दिया। दोनों ने बताया कि उनकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव है। इस दौरान उन्होंने निजी लैब में कराए कोविड टेस्ट की रिपोर्ट भी स्वास्थ्य अधिकारियों के समक्ष पेश की।

इस बीच मौके पर पहुंचे प्रभारी चिकित्साधिकारी, फकोट डॉ जगदीश जोशी ने महिला और उसके पति से पुनः कोविड टेस्ट करवाने की सिफारिश की।

मगर दोनों ने टेस्ट कराने से मना कर दिया। इस पर उन्होंने सीआरटी की टीम को महिला के विरुद्ध आपदा अधिनियम में मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए।

वहीं इस सूचना पर स्थानीय लोग स्वास्थ्य विभाग से अपना कोविड टेस्ट करवाने में कतरा रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश
To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap