Connect with us
1597908155189
सीएम

देहरादून

दुःखद: वीर सैनिक के आश्रित को मिलेगी राज्य में नौकरी, सीएम ने दिया भरोसा

WhatsApp Image 2020 09 16 at 10.00.24

ajax loader

देहरादून। शहीद हवलदार राजेन्द्र सिंह नेगी का पार्थिव शरीर सुबह उनके आवास देहरादून पहुंच गया। अंतिम दर्शन के लिए आवास पर पहुंचे सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार शहीद हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी के परिजनों की हर संभव मदद करेगी।

आश्रित को मिलेगी राज्य में नौकरी

मीडिया रिपोर्ट्स के आधार, शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए भीड़ जमा हो गई। इसके बाद पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए हरिद्वार ले जाया गया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार शहीद के परिजनों की हर संभव मदद करेगी। राज्य सरकार शहीद की पत्नी को उनकी योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरी देगी।

विशेष विमान से पहुंचा पार्थिव शरीर

शहीद हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी का पार्थिव शरीर बुधवार देर शाम दून लाया गया। श्रीनगर से विशेष विमान से पार्थिव शरीर को जौलीग्रांट लाया गया।इसके बाद सेना के वाहन से मिलिट्री अस्पताल ले जाया गया। जहां से आज सुबह पार्थिव शरीर को शहीद के अंबीवाला स्थित घर पर लाया गया।

आठ जनवरी को पाकिस्तान सीमा पर गिर गए थे

आपको बता दे कि हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी सेना की 11 गढ़वाल राइफल्स में तैनात थे। वह बारामुला के गुलमर्ग इलाके में तैनात थे। आठ जनवरी को ड्यूटी के दौरान एवलांच आने से वह फिसलकर पाकिस्तान की सीमा की तरफ गिर गए थे। सेना ने काफी दिनों तक रेस्क्यू किया लेकिन उनका पता नहीं चल पाया था

संघर्ष: कोरोना ड्यूटी में चिकित्सक किसी तपस्वी से कम नहीं, जानिए कब और किसने कहा

गौरव: जब हजारों की ऊंचाई पर लहरा तिरंगा, क्या महसूस किया युवाओं ने, कंहा और क्यों

उम्मीद: सूबे में पहली बार ऑनलाइन रोजगार मेला, जानिए कैसे करें आवेदन

दुखद: पाक सीमा में लापता हवलदार का शव दून पहुंचा, आज होंगे अंतिम दर्शन और अंतिम विदाई

Continue Reading
Advertisement

More in देहरादून

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश
To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap