Connect with us

गजब: एजुकेशन हब में नशे का कलंक, जिन हाथों की उम्र किताबों की उनमें मिला नशे का सामान,नशा तस्कर गिरोह सक्रिय

1594298548213
गजब: एजुकेशन हब में नशे का कलंक, जिन हाथों की उम्र किताबों की उनमें मिला नशे का सामान,नशा तस्कर गिरोह सक्रिय

देहरादून

गजब: एजुकेशन हब में नशे का कलंक, जिन हाथों की उम्र किताबों की उनमें मिला नशे का सामान,नशा तस्कर गिरोह सक्रिय

2ads

ajax loader


देहरादून। शिक्षा के लिए देशभर में मशहूर राजधानी देहरादून में नशे का कारोबार चरम पर है। दरअसल सक्रिय गिरोह अब मासूम जिंदगियों को इस दलदल में डाल रहा है। जिससे पुलिस की आंख में धूल झोंककर नशे का कारोबार बढ़ाया जा सके।


गुरुवार को एक वाकिया सामने आया है। हुआ यूं कि राजधानी के बिंदाल पुल चकराता रोड पर ड्रग्स बेचते कुछ मासूम बच्चों को पकड़ लिया गया। पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गई है।

आखिर ये मासूम नशे के सौदागर कैसे बन गए, इन्हें नशे का सामान कंहा से उपलब्ध हो रहा है तमाम सवालों को लेकर पुलिस तहकीकात में लग गई है।

कहा जा सकता है कि ड्रग्स की बिक्री के लिए अपराधी नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। कम उम्र के बच्चे आसानी से अपराधी के चंगुल में आ जाते हैं।

जिन्हें नशे का सामान देकर बाजारों में पैडलर के रूप में उतारा जा रहा है। एजुकेशन हब होने के साथ राजधानी में बाहर से आये स्टूडेंट नशे का सामान खरीदने में लिप्त होने की तस्दीक हर वर्ष पुलिस आंकड़ों में करते आये हैं।

जिसके चलते ये काला कारोबार चरम पर है। पुलिस कारोबार को समाप्त करने के लिए प्रयासरत है लेकिन तस्करी शातिर तरीके से किये जाने पर पुलिस भी कभी कभार गच्चा खा जाती है। बहरहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Continue Reading
Advertisement

More in देहरादून

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

To Top