Connect with us

Big News: कोरोना कहर के चलते उत्तराखंड सरकार ने कसी कमर, 10 जनवरी से लगेगी बूस्टर डोज…

उत्तराखंड

Big News: कोरोना कहर के चलते उत्तराखंड सरकार ने कसी कमर, 10 जनवरी से लगेगी बूस्टर डोज…

कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने कमर कस ली है। कोविड की दो डोज लगा चुके साठ वर्ष से अधिक आयु के वृद्धों, स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को सुरक्षा कवच देने के लिए 10 जनवरी से बूस्टर डोज दी जाएगी।

मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू ने सभी जिलाधिकारियों को इसकी पूरी तैयारी करने के निर्देश दिए। उत्तराखंड में पिछले एक हफ्ते में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसे देखते हुए सरकार ने भी महामारी को फैलने से रोकने के लिए उपाय शुरू कर दिए हैं।

गुरुवार को मुख्य सचिव ने सचिवालय में कोविड की तीसरी लहर की संभावना से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने जिलाधिकारियों को अपने जिलों में कोविड की स्थिति पर लगातार नजर बनाए रखने व प्रतिदिन कोविड को लेकर उच्चाधिकारियों के साथ बैठक करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  सावधान: उत्तराखंड में कोरोना के डराने वाले आंकड़े, आज मिले 5 हज़ार करीब नए मामले, जानिए अपने जिले का हाल...

उन्होंने कहा कि कोविड अनुकूल व्यवहार का अनुपालन सुनिश्चित हो। आमजन को मास्क पहनने और सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए जागरूक किया जाए। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वालों पर कार्रवाई हो। उन्होंने निर्देश दिए कि टेस्टिंग बढ़ाए जाने के साथ ही नियमित तौर पर डाटा अपलोड किया जाए, ताकि स्थिति का सही से अनुमान लगाया जा सके।

एक हफ्ते में पूरा हो किशोरों का टीकाकरण

उन्होंने 15 से 17 वर्ष के किशोरों का अगले सात दिन में टीकाकरण करने के निर्देश दिए। कहा कि 100 प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य शीघ्र से शीघ्र पूरा कर लिया जाए। 10 जनवरी से 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों को बूस्टर डोज देने की तैयारी पूरी हो।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking: लंबे समय का इंतजार हुआ खत्म, अभी-अभी उत्तराखंड में बीजेपी ने जारी की 59 उम्मीदवारों लिस्ट, देखिए...

अस्पतालों में दवाओं व आइसोलेशन किट की व्यवस्था

उन्होंने प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तक आवश्यक दवाओं, कोविड आईसोलेशन किट आदि की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। होम आईसोलेशन की व्यवस्था को सुदृढ़ किए जाने के लिए सभी आवश्यक कदम समय से उठा लिए जाएं। कंट्रोल रूम सक्रिय हो जाएं। अस्थाई स्वास्थ्य सुविधाओं को संचालन अवस्था में रखा जाए। सामान्य बेड, ऑक्सीजन बेड और वेंटीलेटरयुक्त बेड की उपलब्धता रहे। बर्फ से प्रभावित क्षेत्रों में कोविड के लिए सुनियोजित तरीकेसे कार्य हों। संपर्क मार्ग अवरुद्ध होने से पहले व्यवस्थाएं हो जाएं।

कोविड की तीसरी लहर आए या नहीं या वह कितनी प्रभावित करेगी कहना मुश्किल है परन्तु हमें अपनी तैयारियां कोविड से एक कदम आगे रहकर करनी हैं। इसके लिए पूरे सिस्टम को एकजुट होकर प्रभावी तौर पर कार्य करना होगा।
– डॉ. एसएस संधू, मुख्य सचिव, उत्तराखंड शासन

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड चुनावः BJP आज जारी करेंगी प्रत्याशियों की पहली सूची, जानिए कौन कहां से लड़ेगा चुनाव...

कोरोना डोज की ताजा स्थिति

77.81 लाख लोगों को अब तक पहली डोज लग चुकी है
63.80 लाख लोगों को अब तक दूसरी डोज लग चुकी है

अब इन्हें लगेगी बूस्टर डोज
9.00 लाख साठ वर्ष से अधिक आयु वृद्ध
1.15 लाख स्वास्थ्य कर्मी
1.80 लाख फ्रंट लाइन कार्यकर्ता

बूस्टर डोज वही जो वैक्सीन पहले लगी
साठ वर्ष की आयु से ऊपर के वृद्धों, स्वास्थ्य कार्यकर्ता और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को वही बूस्टर डोज लगेगी जिसकी वह पहली व दूसरी डोज ले चुके हैं। जिन्होंने कोविशील्ड या कोवॉक्सिन लगाई है, उन्हें इसी की बूस्टर डोज दी जाएगी।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

देश

देश
Our YouTube Channel
Advertisement
Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
6 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap