Connect with us
1596383910733
आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई, गरज रहे पंचायत प्रतिनिधि

उत्तराखंड

आरोप। आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई, गरज रहे पंचायत प्रतिनिधि, क्या है मामला जरा जानिए

WhatsApp Image 2020 09 16 at 10.00.24

ajax loader

रानीखेत। सुदर्शन कैंतुरा
ताड़ीखेत ब्लाक के ग्राम बलियाली गांव में ग्रामीणों की कृषि भूमि में कब्जे को लेकर हुए विवाद मामले में चौथे आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर पंचायत प्रतिनिधि गुस्साए हुए हैं। जिसको लेकर

जिला पंचायत सदस्य धन ‌सिंह रावत के नेतृत्व में पंचायत प्रतिनिधियों ने बलियाली जाकर इस संबंध ग्रामीणों से वार्ता भी की।

इस बाबत उन्होंने रानीखेत एसडीएम को भी लिखित रूप से अवगत भी कराया है। चेताया कि आरोपी की जल्द गिरफ्तारी न हुई तो उग्र आंदोलन होगा।

आरोप है कि बलियाली में माफिया यहां ग्रामीणों को उनके हक हकूकों से वंचित करने के प्रयास चल रहे हैं, इस तरह की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। चौथे आरोपी की जल्द गिरफ्तारी करने की मांग उठाई गई। एसडीएम अभय प्रताप सिंह ने सार्थक कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य सोनू फर्त्याल, प्रधान गिरीश चंद्र, शेखर तिवारी, ललित मोहन पांडे, भुवन दत्त, रेखा देवी, गुड्डी देवी, पुष्पा देवी, दयाकिशन तिवारी आदि मौजूद रहे।

हिंदूवादी संगठनों ने ग्रामीणों के साथ की बैठक

आरएसएस, हिंदू जागरण मंच व युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने ग्राम बलियाली जाकर ग्रामीणों के साथ बैठक की। ग्रामीणों ने कहा कि माफिया प्रवृत्ति के कुछ बाहरी लोग दो सालों से उन्हें धमका रहे हैं। गत 27 जुलाई को उन्होंने गांव में फायरिंग तक कर डाली।

जिला पदाधिकारियों ने कहा कि देवभूमि में हिंदू धर्म विरोधी गतिविधियों को बढ़ाने के मकसद से बिचौलियों के माध्यम से यह सब किया जा रहा है। ऐसे मंसूबे सफल नहीं होने दिए जाएंगे।

छोटे लालच के फेर में कुछ स्थानीय लोग ही विधर्मियों का साथ दे रहे हैं। जरूरत पड़ने पर संगठन प्रदेशव्यापी मुहिम छोड़ेंगे। बैठक में हिजाम के विभाग संयोजक तरूण जोशी, राकेश चंद्र, गणेश नेगी, निकेत जोशी, विजय आदि मौजूद रहे।

Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

उत्तराखंड

उत्तराखंड

देश

देश
To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap