Connect with us

राजनीति: कैबिनेट मंत्री हरक ने किया पूर्व मुख्यमंत्री को लेकर ये बड़ा खुलासा, बढ़ सकती है भाजपा की मुश्किलें…

देहरादून

राजनीति: कैबिनेट मंत्री हरक ने किया पूर्व मुख्यमंत्री को लेकर ये बड़ा खुलासा, बढ़ सकती है भाजपा की मुश्किलें…

देहरादून: उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव को देखते हुए सरगर्मियां तेज हो गई है। आरोप प्रत्यारोप, दल बदल का दौर जारी है। इस बीच धामी सरकार के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने बड़ा बयान दिया है। जिसके बाद उत्तराखंड की राजनीति में हड़कंप मच गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हरक सिंह ने अपने बयान में दावा किया है कि अगर ढेंचा मामले में वह उन्हें नहीं बचाते तो त्रिवेन्द्र सिंह रावत को जेल हो जाती। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने त्रिवेंद्र सिंह रावत को मामले को लेकर जेल भेजने की पूरी तैयारी कर ली थी। लेकिन उन्होंने समय रहते त्रिवेंद्र सिंह रावत को जेल जाने से बचा लिया ।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking: आय प्रमाण पत्र को लेकर राज्य सरकार का बड़ा फैसला, गरीबों को दी ये बड़ी राहत, पढ़िए...

आपको बता दें कि उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले ढेंचा बीज घोटाले का जिन्न एक बार फिर बाहर आ गया है। विपक्ष को बैठे बिठाए एक तरह से मुद्दा मिल गया है। हरक सिंह ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार में हरीश रावत इससे पहले बीजेपी सरकार में कृषि मंत्री रहे त्रिवेंद्र रावत को ढेंचा बीज घोटाले के लिए जेल भेजना चाहते थे। हरक ने कहा कि उन्होंने त्रिवेंद्र के समर्थन में दो पेज की नोटिंग की थी। जिसके चलते वो जेल जाने से बच गए। उन्होंने कहा कि तब हरीश रावत ने कहा था कि तुम सांप को दूध पिला रहे हो। मंत्री हरक सिंह ने कहा कि यदि तब त्रिवेंद्र जेल गए होते तो 2017 में वो सीएम भी नहीं बन पाते। उन्होंने कहा कि अब मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है, इसलिए मैं यह खुलासा कर रहा हूं।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले इस विधायक ने दिया अपने पद से इस्तीफा, जानिए क्या है मामला...

गौरतलब है कि 2007 से 12 के बीच बीजेपी की खंडूरी सरकार में त्रिवेंद्र रावत कृषि मंत्री थे, इसके बाद 2012 से 17 तक रही कांग्रेस सरकार में हरक सिंह रावत कृषि मंत्री बने। हरीश रावत मुख्यमंत्री थे। तब त्रिवेंद्र पर ढेंचा बीज खरीद में घोटाले के आरोप लगे थे। वैसे तो कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत अपने बयानों को लेकर इससे पहले भी कई बार चर्चा में आ चुके हैं। लेकिन उनके इस बयान ने साफ तौर पर यह तो जाहिर कर दिया है कि पार्टी में कुछ ना कुछ अंदर ही अंदर चल रहा है। हरक के इस बयान से राजनीतिक गलियारों में बवाल मचना तो तय है। लेकिन उनके इस बयान से यह भी साफ जाहिर होता है कि जरूर बीजेपी में कुछ तो पक रहा है जिसके चलते अब नेता आपस में एहसान जताने वाली बातों को बाहर निकाल कर गड़े मुर्दे उखाड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Job: उत्तराखंड पुलिस में रखते हैं चाह, तो ख़ुशख़बरी है,Uk पुलिस में इतनी भर्ती...

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in देहरादून

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
0 Shares
Copy link
Powered by Social Snap