Connect with us

हरिद्वार

दुःखद खबर: रेल लाइन के दोहरीकरण के ट्रायल रन के दौरान हादसा, चार लोगों की मौत….

हरिद्वार: एक बड़ी दुःखद खबर सामने आ रही है। हरिद्वार में गुरुवार को रेलवे ट्रैक के ट्रायल के दौरान एक बेहद दर्दनाक हादसा हुआ है। जिसमें 4 लोगों की दर्दनाक मृत्यु हो गई है। यहां पर रेलवे लाइन की दोहरीकरण के बाद ट्रेन ट्रायल रन पर थी लेकिन इसी दौरान बड़ा हादसा हो गया जिसमें ट्रेन से कटकर 4 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ट्रेन के ट्रायल से पहले क्षेत्र में किसी भी तरह का अनाउंसमेंट नहीं करवाया गया जिसके कारण ये हादसा हुआ।

इस दर्दनाक हादसे में मरने वालों की अभी पहचान नहीं हो सकी है। हादसे के बाद पुलिस और जीआरपी के अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना की जांच में जुट गए थे। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जिलाधिकारी को मजिस्ट्रेट स्तर पर जांच करने और घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

आपको बता दें कि हरिद्वार के ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र के जमालपुर कंला में गुरुवार शाम को ट्रायल के लिए चलाई गई ट्रेन ने चार लोगों की जान ले ली। हादसे का शिकार हुए चारों लोग कौन थे, कहां के रहने वाले थे और रेलवे ट्रैक पर क्या कर रहे थे, कोई जानकारी नहीं है और उनकी पहचान भी नहीं हो सकी है। उनके शव के क्षत-विक्षत टुकड़े पड़े हुए थे। पुलिसकर्मियों ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया है।

जीआरपी के एएसपी मनोज कत्याल का कहना है कि हरिद्वार क्षेत्र में जमालपुर में ट्रेन का ट्रायल रन चल रहा था। ट्रैक पर दोहरीकरण का कार्य पूरा होने के बाद ट्रायल रन होना था। इस ट्रायल रन के दौरान यह घटना हुई है और इसमें लगभग तीन से चार लोगों की मौत होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि शव को अभी पोस्टमार्टम हाउस ले जाया गया है। फिलहाल मृतकों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। हम लोग आगे की कार्रवाई इसमें कर रहे हैं।

विधायक स्वामी यतीश्वरनन्द का कहना है कि बहुत ही दुखद घटना है यह जो नई लाइन बिछाई गई है इसमें गुरुवार को ट्रायल के लिए ट्रेन बड़ी स्पीड से निकाली गई थी, लेकिन इसमें मैं समझता हूं बहुत बड़ी गलती हुई है। अगर नई रेलवे लाइन की ट्रायल करना था तो पहले अनाउंसमेंट करना चाहिए था क्योंकि आबादी का क्षेत्र है दोनों साइड में बहुत बड़ी घनी आबादी रहती है। उसमें कहीं ना कहीं रेलवे के अधिकारियों से या दूसरे लोगों से बहुत बड़ी चूक हुई है।

Continue Reading
Advertisement

More in हरिद्वार

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

देश

देश
Advertisement
Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

To Top
error: Content is protected !!
5 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap