Connect with us

टिहरी गढ़वाल

Tehri News: शासन ने की निलंबित शिक्षक की बहाली, ग्रामीणों में आक्रोश, जानें मामला…

Tehri News: टिहरी से बड़ी खबर आ रही है। यहां शिक्षा विभाग ने पत्नी की हत्या के आरोप में निलंबित एक शिक्षक की बहाली कर दी है। जिसके आदेश जारी किए गए है। जारी आदेश में लिखा है कि जीत सिंह को सेवा में बहाल करते हुये रा ० इ ० का ० थाती बूढाकेदार भिलंगना भेजा गया है। जिसके बाद शिक्षक की बहाली से बूढ़ाकेदार में आक्रोश है। आक्रोशित ग्रामीणों का कहना है कि अपराधी प्रवृत्ति के शिक्षक की बहाली रा ० इ ० का ० थाती बूढाकेदार में नहीं होनी चाहिए।

मिली जानकारी के अनुसार बालगंगा तहसील में दी गई तहरीर में बताया गया था कि शिक्षक जीत सिंह शादी के बाद से ही ससुराल वाले वंदना को दहेज के लिए तंग कर रहे थे। आरोपी पति जीत सिंह सेमंडीधार के राजकीय इंटर कॉलेज में शिक्षक थे। आरोप है कि जीत सिंह वंदना को कम दहेज लाने के लिए प्रताड़ित करता था। लड़की के परिवारवाले दहेज में आलमारी नहीं दे पाए थे, जिसके लिए वंदना को रोज ताने मारे जाते थे। उसके साथ मारपीट की जाती थी। मृतक के पिता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने दहेज हत्या का केस दर्ज किया था। जिसमें  पति और ससुर को गिरफ्तार किया गया था  साथ ही शिक्षक को निलंबित भी कर दिया गया था।

अब शिक्षक की बहाली के आदेश जारी किए गए है। जारी आदेश में लिखा है कि जीत सिंह की करागार से रिहाई होने पर खण्ड शिक्षा अधिकारी , जाखणीधार , टिहरी गढ़वाल में सम्बद्ध किया गया । मा . न्यायालय जिला एवं सत्र न्यायाधीश , टिहरी गढ़वाल में योजित सत्र परीक्षण संख्या – 10 / 2020 राज्य बनाम जीत सिंह आदि में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश टिहरी गढ़वाल द्वारा सम्बन्धित अध्यापक को भारतीय दण्ड संहिता की धारा 498 ए 304 बी , 120 बी व धारा 3/4 दहेज प्रतिषेध अधिनियम 1961 के आरोपों से दोषमुक्त किया गया है। विभाग की जांच में अवगत कराया गया है कि “जीत सिंह स.अ. कला , रा.इ.का. सेमण्डीधार , टिहरी गढ़वाल की निलम्बन बहाली यदि पूर्व विद्यालय में होती है , तो विद्यालय में शांति भंग होने की आशंका है । क्योंकि जीत सिंह की ससुराल ग्राम धाराकोटी देवताधार सेमण्डीधार के अन्तर्गत टिहरी गढ़वाल में ही है तथा ग्राम सेमण्डीधार के आमजन जीत सिंह स.अ. के प्रति अत्यन्त आक्रोशित है , इसलिये सम्बन्धित अध्यापक की बहाली अन्यन्न विद्यालय में की जानी आवश्यक है । ”

जीत सिंह स.अ. कला रा.इ.का. सेमण्डीधार , जाखणीधार , टिहरी गढ़वाल को निम्नांकित प्रतिबन्धों के साथ उसी पद एवं वेतनक्रम में सेवा में बहाल करते हुये रा ० इ ० का ० थाती बूढाकेदार भिलंगना । ‘ टिहरी गढ़वाल में स्थानान्तरण किया जाता है ।  जीत सिंह स.अ. कला को निलम्बन की तिथि से राजकीय सेवा में पुनर्स्थापित समझा जायेगा । निलम्बन काल को उनके देयकों के लिए सेवा काल माना जायेगा । निलंबन काल में उनके अनुपस्थित रहने की अवधि का नियमानुसार जो भी अवकाश देय हो स्वीकृत किया जायेगा । जीत सिंह स ० अ ० कला को आदेशित किया जाता है कि आप एक सप्ताह के भीतर रा ० इ ० का ० थाती बूढाकेदार भिलंगना , टिहरी गढ़वाल में कार्यभार ग्रहण करना सुनिश्चित करें ।

शासन के आदेश से बूढ़ाकेदार के ग्रामीणों ने विरोध किया है। उन्होने प्रधानाचार्य को पत्र दिया है जिसमें लिखा है कि हम सभी अभिभावक इस प्रकार के अपराधी शिक्षक का अपने विद्यालय में विरोध करते है। यदि इस प्रकार का अपराधी शिक्षक स्कूल में होगा तो इससे छात्र छात्राओं की शिक्षा दीक्षा पर गलत असर पड़ेगा । ग्रामीणों ने प्रधानाचार्य को पत्र में लिखा है कि  शिक्षक को पद ग्रहण न करने दिया जाए। यदि ऐसा नहीं होगा तो ग्रामीण आंदोलन करेंगे।

आक्रोश व्यक्त करने वालों में शिक्षक अभिभावक संघ अध्यक्ष जयदीप सिंह रावत, बूढ़ाकेदार मंदिर समिति अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह नेगी, व्यापार मंडल अध्यक्ष बूढ़ाकेदार जय प्रकाश राणा,महासर नाग मंदिर समिति अध्यक्ष कमल सिंह राणा, ग्राम प्रधान आगर उन्नत सिंह नेगी, पूर्व प्रधान रगक्ष्या महेश चंद रमोला, हिम्मत सिंह रौतेला, सतीश रतूड़ी, चंद्रवीर सिंह तोमर,तिरेपन सिंह नेगी,चंद्रेश नाथ, कैलाश रमोला, विनोद गैरोला, चंद्रमोहन लसियाल, चंदन सिंह , ज्ञानचंद बिष्ट,सरस्वती देवी, अनीता देवी, विकास रावत, किशोरी लाल,आदि लोग मौजूद रहे।

Latest News -
Continue Reading

More in टिहरी गढ़वाल

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement

देश

देश

YouTube Channel Uttarakhand Today

Our YouTube Channel

Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
2 Shares
Share via
Copy link