Connect with us

देश

संडे मेगा स्टोरी: गोवा मुक्ति के 60 साल, अपनी आजादी और क्रिसमस-नए साल के जश्न में रंगा खूबसूरत राज्य…

आज संडे है । फुर्सत के पलों में आइए आपको एक ऐसे राज्य लिए चलते हैं जो अपनी समुद्र तट की खूबसूरती का एहसास कराता है। यहां के बीच देश ही नहीं बल्कि पूरे दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। भारत का यह खूबसूरत छोटा सा राज्य अपनी मस्ती भरी जिंदगी के लिए जाना जाता है। इस प्रदेश का नाम आते ही सभी का मन यहां आने को करता है। समुद्र के तट पर बसा यह राज्य पूरे साल देश-विदेशों के पर्यटकों को आकर्षित करता है। हम बात कर रहे हैं गोवा की। आज गोवा अपनी आजादी मना रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गोवा में राज्य के मुख्य आंदोलन में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि देंगे। इसके साथ पीएम मोदी यहां कई विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे। अब बात को आगे बढ़ाते हैं। पुर्तगालियों ने गोवा पर लगभग 450 सालों तक शासन किया । बता दें कि 15 अगस्त साल 1947 को भारत को आजादी मिल गई थी लेकिन गोवा 14 साल बाद भारत का हिस्सा बना। वह 19 दिसंबर 1961 को हमारे जांबाज सैनिकों ने गोवा को पुर्तगालियों से आजाद कराया, इसलिए 19 दिसंबर को गोवा में ‘मुक्ति दिवस’ मनाया जाता है। वैसे गोवा अपना स्थापना दिवस 30 मई को मनाता है क्योंकि इसी दिन 30 मई, 1987 को गोवा को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला था। हर साल यह राज्य 19 दिसंबर को अपना मुक्त दिवस मनाता है। गोवा आज अपनी आजादी के रंग में रंगा हुआ है। वैसे भी यह छोटा खूबसूरत राज्य हमेशा ही मस्ती के मूड में रहता है। लेकिन दिसंबर आते ही वह अपने पूरे शबाब पर आ जाता है। इसका कारण है कि यहां क्रिस्चियन बाहुल्य होने की वजह से क्रिसमस डे और नए साल को सेलिब्रेट करने के लिए पूरे गोवा वासी जश्न में सराबोर रहते हैं। इस समय गोवा में राजनीतिक रंग भी चढ़ा हुआ है। इसका कारण है कि अगले कुछ महीनों में होने जा रहे देश के 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव में गोवा भी शामिल है। ‌यानी इस राज्य में चुनाव प्रचार और रैलियों का दौर शुरू हो गया है। मौजूदा समय में यहां भाजपा की सरकार है और प्रमोद सावंत मुख्यमंत्री हैं। आज मुक्त दिवस के अवसर पर आइए गोवा की लाइफ स्टाइल के बारे में चर्चा की जाए।

दुनिया में गोवा अपने लाइफ स्टाइल के लिए जाना जाता है–

पूरी दुनिया में गोवा अपने खूबसूरत बीचेज, नाइट लाइफ, वॉटर स्पोर्ट्स, फूड्स वगैरह के लिए जाना जाता है । बता दें कि गोवा राज्य तीन भागों में बंटा हुआ है। (1) पणजी या पंजिम, (2) मडगांव और (3) वास्को डी गामा। यह एक ऐसा राज्य है जिसका नाम सुनते ही याद आता है दूर-दूर तक फैला समुद्र का किनारा, आधुनिक जीवनशैली, थिरकते कदम और काजू से बनी लाजवाब फेणी। लेकिन गोवा सिर्फ यहीं तक सीमित नहीं। इस राज्य में कई ऐसे बेहतरीन रिसॉर्ट्स हैं, जहां लोग शांति की तलाश में भी आते हैं। यहां सिर्फ खूबसूरत इलाके ही नहीं, बल्कि पर्यटन से जुड़ी हर तरह की सुविधाएं भी हैं। यहां जगह-जगह पर ट्रैवल एजेंसियों के छोटे-छोटे दफ्तर बने हुए हैं, जो पर्यटकों को गोवा के सारे इलाकों की सैर कराते हैं। यहां की सेवाएं इतनी उम्दा हैं कि देशी तो क्या, विदेशी पर्यटकों को भी किसी तरह की तकलीफ नहीं होती। इसीलिए इसे ‘पर्यटकों का शहर’ भी कहा जाता है। यहां के लोगों की आधिकारिक भाषा कोंकणी हैं। गोवा जाने का सबसे बेहतरीन समय अक्टूबर से मार्च तक का होता है। इस मौसम में यहां लाखों पर्यटक आते हैं। जून से सितंबर तक यहां बहुत अधिक वर्षा होने के कारण इस मौसम में यहां पर्यटक कम ही आते हैं। न्यू ईयर की पार्टी के लिए खासतौर पर गोवा को विशेष और आकर्षक स्थल माना जाता है। इसलिए आप भी न्यू ईयर पार्टी का मजा लेने के लिए गोवा जा सकते हैं।

गोवा में खूबसूरत समुद्री किनारों के साथ कई धार्मिक पर्यटन स्थल भी प्रसिद्ध हैं–

हम आपको बता दें कि गोवा में समुद्र के किनारों के साथ कई धार्मिक पर्यटन स्थल भी हैं, जहां सैलानियों की भीड़ लगी रहती है। राजधानी पणजी, वास्को डी गामा, मडगांव, मापुसा, पोंडा, ओल्ड गोवा, छापोरा, वेगाटोर, बेनॉलिम, दूधसागर झरने आदि हैं। गोवा पहुंचकर इन सभी बीचेस पर घूमने जाएं- डोना पॉला, मीरमार, बोग्मालो, अंजुना, वेगाटोर, कोल्वा, केलनगुट, बांगा, पालोलेम, आराम बोल, अंजुना। गोवा सबसे खूबसूरत जगह है वॉटर स्पोर्ट्स के लिए । बीचेस पहुंचकर ये सारे वॉटर स्पोर्ट्स आप कर सकते हैं, बनाना राइड्स, पैरासैलिंग, बंपर राइड, जेटस्की, बोट राइड, पैराग्लाइडिंग। कैलंग्यूट और बागा बीच पर सूर्योदय और सूर्यास्त के समय समंदर में डॉल्फिन क्रूज के जरिए हंसती-खेलती डॉल्फिन देख सकते हैं। यहां के महादेई वाइल्डलाइफ सेंचुरी, बंगाल टाइगर, भगवान महावीर सेंचुरी और मोलम नेशनल पार्क भी मशहूर हैं। अगर आप ट्रैकिंग का मजा लेना चाहते हैं तो दूधसागर फॉल चले जाइए। कुछ प्रमुख धार्मिक स्थल भी हैं, जहां आप गोवा में जा सकते है । बैसिलिका ऑफ बॉम जीसस (सेंट कैथरीन्स), कैथेड्रल ऑफ सेंट काजेतान, श्री दत्त मंदिर, चर्च ऑफ सेंट फ्रांसिस, मंगेश श्री महालसा। यहां के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक चर्च- ऑफ असीसी, होली स्पिरिट, पिलर सेमिनरी, रकोल सेमिनरी आदि यहां के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक चर्च हैं। इसके अलावा सेंट काजरन चर्च, सेंट आगस्टीन टॉवर, ननरी ऑफ सेंट मोनिका तथा सेंट एरक्स चर्च भी प्रसिद्ध हैं। गोवा के प्रसिद्ध मंदिर, श्री कामाक्षी, सप्तकोटेश्‍वर, श्री शांतादुर्ग, महालसा नारायणी, परनेम का भगवती मंदिर और महालक्ष्मी आदि दर्शनीय मंदिर हैं। ये सांस्कृतिक स्थल भी आप गोवा में विजिट कर सकते हैं, अगुडा किला, संग्रहालय, पुरामहत्व का संग्रह। नेशनल पार्क जा सकते हैं, बोंडला अभयारण्य, कावल वन्यप्राणी अभयारण्य, कोटिजाओ वन्यप्राणी अभयारण्य हैं।

सड़क-रेल के साथ हवाई मार्ग से भी पहुंचा जा सकता है गोवा—

अब बात करते हैं कि गोवा कैसे पहुंचे। सड़क मार्ग, मुंबई से बस या टैक्‍सी से गोवा पहुंच सकते हैं। अन्य शहरों से भी गोवा सड़क मार्ग से जुड़ा है। रेलमार्ग, कोंकण रेलवे (मुंबई से बेंगलुरु) सर्वाधिक आकर्षक रेलमार्ग है। यह रेल लाइन गोवा से गुजरती है और इस पर यात्रा करने वाले इस क्षेत्र की मनोहारी सुंदरता आसानी से देख सकते हैं। हवाई मार्ग, मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु, कोच्चि और तिरुअनंतपुरम से गोवा के लिए सीधी उड़ानें हैं। पणजी से 26 किलोमीटर दूर (दक्षिणी) साउथ गोवा में स्थित डाबोलिम राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का हवाई अड्डा है। विदेशी पर्यटकों के लिए मुंबई प्रमुख हवाई अड्डा है। वैसे गोवा के लिए सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी हैं। यहां कार व बाइक रेंट (किराए) पर मिलती है जिसमें पेट्रोल-डीजल आपको डलवाना होगा और आप 12 या 24 घंटे के हिसाब से इन्हें रेंट पर ले सकते हैं। तो आप पूरा शहर घूमने के लिए तैयार हैं। स्मार्टफोन से मैप पर रास्ता देखते रहें और लॉन्ग ड्राइव का आनंद उठा सकते हैं।

गोवा के मुक्ति दिवस पर आज पीएम मोदी यहां कई योजनाओं का करेंगे लोकार्पण-शिलान्यास

आज गोवा के मुक्ति दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी गोवा जा रहे हैं। वे यहां गोवा मुक्ति दिवस समारोह में शामिल होने के लिए तालेगाओ के डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम जाएंगे। प्रधानमंत्री समारोह में स्वतंत्रता सेनानियों और ‘आपरेशन विजय’ के दिग्गजों को सम्मानित करेंगे। गोवा को पुर्तगाली शासन से मुक्त कराने वाले भारतीय सशस्त्र बलों द्वारा किए गए ‘आपरेशन विजय’ की सफलता को चिह्नित करने के लिए हर साल 19 दिसंबर को गोवा मुक्ति दिवस मनाया जाता है। प्रधानमंत्री पुनर्निर्मित फोर्ट अगुआड़ा जेल संग्रहालय, गोवा मेडिकल कालेज में सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक, न्यू साउथ गोवा जिला अस्पताल, मोपा हवाई अड्डे पर विमानन कौशल विकास केंद्र और डाबोलिम-नावेलिम, मडगांव में गैस-इन्सुलेटेड सबस्टेशन सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in देश

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement

देश

देश

YouTube Channel Uttarakhand Today

Our YouTube Channel

Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
2 Shares
Share via
Copy link

Slot Online

Slot Online

Slot Online

Slot Online

Slot Online

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

agen sbobet

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

bonus new member 100

Sbobet88 Resmi

sbobet resmi

https://micg-adventist.org/wp-includes/slot-gacor/

Sbobet88

https://micg-adventist.org/wp-includes/slot-gacor/

http://nvzprd-agentmanifest.ivanticloud.com/