Connect with us

दिल्ली

संसद सत्र खत्म: पक्ष-विपक्ष के बीच संसद में चली आ रही लड़ाई खत्म, अब मुकाबला सियासी मैदान में…

दिल्ली: पक्ष और विपक्ष के बीच संसद भवन में पिछले 23 दिनों से चली आ रही लड़ाई आज खत्म हो गई। अब चुनावी मैदान में शुरू होगी सियासी जंग। बता दें कि पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा समेत तमाम विपक्षी दल अपने-अपने मुद्दों को लेकर मैदान में उतर चुके हैं। पिछले महीने 29 नवंबर से चला रहा शीतकालीन मानसून सत्र आज तय समय से एक दिन पहले समाप्त हो गया। इसी के साथ राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। ‌पूरे सत्र के दौरान विपक्ष 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन और उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी को लेकर हंगामा करता रहा। वैसे यह संसद का शीतकालीन सत्र 23 दिसंबर गुरुवार को चलना था लेकिन एक दिन पहले ही खत्म करना पड़ा। ‌दोनों सदनों में लगातार जारी हंगामे के चलते सत्र को जल्दी समाप्त करने का फैसला लिया गया। बता दें कि मंगलवार को भी संसद में भारी हंगामा हुआ राज्यसभा की कार्यवाही खत्म होने के साथ ही सदन में तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन के व्यवहार की वजह से संसद से निलंबित कर दिया गया। बता दें कि चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक, 2021 पर चर्चा के दौरान, टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने बिल के पास करने के तरीके पर आपत्ति दर्ज करवाई। उन्होंने कहा कि हम सदन के नियमों का सम्मान करते हैं, लेकिन जिस तरह से किसान बिल पास करवाया गया था, उसी तरीके से यह बिल भी पास करवाया जा रहा है। डेरेक ओ ब्रायन उस ने संसद की रूलबुक को सेक्रेटरी जनरल स्पीकर की चेयर की तरफ फेंक दिया। इसके बाद वह सदन से वॉकआउट कर गए। उसके बाद संसद की मर्यादा और उनके खराब आचरण की वजह से टीएमसी सांसद ब्राउन को निलंबित किया गया।

विपक्ष के हंगामे के बीच मोदी सरकार ने महत्वपूर्ण विधेयक किए पारित–

संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्ष के हंगामे के बावजूद सदनों में कुछ अहम बिल पास हुए। आइए जानते हैं सत्र में कौन से महत्वपूर्ण विधेयक मोदी सरकार ने पारित किए। कृषि कानून निरसन विधेयक और चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक जैसे प्रमुख कानूनों को पारित किया गया। दूसरा वोटर आईडी को आधार कार्ड से जोड़ने वाला विधेयक मंगलवार को राज्यसभा में पास हुआ। बिल के खिलाफ विरोध जताते हुए विपक्ष ने सदन से वॉकआउट किया। तीसरा केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने लोकसभा में मंगलवार को लड़कियों की विवाह की आयु 18 से बढ़ाकर 21 करने संबंधित विधेयक पेश किया। चौथा चुनाव कानून संशोधन विधेयक, 2021 संसद के दोनों सदनों से पास हो चुका है। इसमें मतदाता सूची से दोहराव को समाप्त करने के प्रावधान हैं। सदन में विपक्ष ने इस बिल का भी भारी विरोध किया था। पांचवां विपक्षी सदस्यों के हंगामे के बीच लोकसभा में जैव विविधता (संशोधन) विधेयक, 2021 को भी पेश किया गया था। बता दें कि पिछले मॉनसून सत्र में भी भारी विपक्ष के भारी शोर-शराबा हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही तय समय से पहले खत्म करनी पड़ी थी।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in दिल्ली

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement

देश

देश

YouTube Channel Uttarakhand Today

Our YouTube Channel

Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
1 Share
Share via
Copy link

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

Judi Slot

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

daftar sbobet

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

slot bonus newmember

Sbobet88 Resmi

sbobet resmi

https://micg-adventist.org/wp-includes/slot-gacor/

Sbobet88

https://micg-adventist.org/wp-includes/slot-gacor/

http://nvzprd-agentmanifest.ivanticloud.com/