Connect with us

देहरादून

कोरोना के बाद डेंगू अभियान की कमान भी स्वयं संभालेंगी मेयर, पार्षदों से की ये अपील…

ऋषिकेश- उत्तराखंड के विभिन्न शहरों के साथ तीर्थ नगरी में बढ़ रहे डेंगू के मामलों से चिंतित नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने आज गढ़वाल प्रवास से लोटते ही विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

गुरुवार को निगम कार्यालय  में डेंगू की रोकथाम और नियंत्रण को लेकर विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि पिछले सालों के आंकड़ों के अध्ययन से पता चलता है कि डेंगू प्रत्येक तीसरे वर्ष अधिक जोखिम भरा और जानलेवा हो जाता है। इसके अनुसार 2019 के बाद अब इस वर्ष अत्यधिक सावधान रहने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष डेंगू का प्रभाव अधिक होने के चलते सभी विभागों और आम लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी। उन्होंने बताया निगम के तमाम क्षेत्रों के साथ डेंगू से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र चन्द्रेश्वर नगर मुनि की रेती क्षेत्र का भी बोर्डर ऐरिया है जिसको देखते हुए मुनि की रेती नगर पालिका क्षेत्र के अधिकारियों को भी बैठक में बुलाया गया था।उक्त क्षेत्र में ज्वांइट अभियान चलाने के लिए निर्देशित किया गया है।उन्होंने विभागों को डेंगू की ट्रेकिंग का प्रशिक्षण देने को भी कहा। उन्होंने मलिन बस्तियों में डेंगू लार्वा को नष्ट करने के लिए अभियान शुरू करने के निर्देश दिए।

महापौर ने तमाम पार्षदों से वार्डो में घर घर जाकर डेंगू के रोकथाम व बचाव के तरीके से लोगों को अवगत कराने व  डेंगू रोग की रोकथाम व बचाव के उपाय के संबंध में जानकारी देने की अपील की। उन्होंने इसके साथ ही लोगों को सतर्क रहने पर विशेष जोर दिया। महापौर ने बताया कि डेंगू रोग के रोकथाम और बचाव के लिए निगम अमला, स्वास्थ्य विभाग व अन्य समस्त विभाग शहर के वार्डो में लगातार दवा का छिडक़ाव के अलावा मुस्तैदी के साथ इसके बचाव के उपाय के संबंध में लोगों को जानकारी देगा।

राजकीय चिकित्सालय के सी एम एस को भी आशा कार्यकत्रियों को इस अभियान में लगाने के लिए कहा गया। जरुरत पड़ने पर मौके पर ही संभावित डेंगू पेशेंट के ब्लड सेंपल लेने के लिए निर्देशित किया गया है। महापौर ने बताया कि कोरोनाकाल की भांति ही वह स्वंय अभियान की अगुवाई करेंगी। साथ ही तमाम टीमों की मानिटरिंग भी उनके द्वारा प्रतिदिन की जायेगी। महापौर ने शहरवासियों से भी डेंगू के बड़ते मामलों को देखते हुए सर्तक रहने की बात कही। कहा कि,घरों के आसपास पूर्ण साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करें। कचरे को अपने आवास पर इकट्ठा ना होन दें। कूंंलर, टेंक, ड्रम, बाल्टी,गमलों आदि से पानी खाली करें। कूलर का उपयोग नही होने का दशा में उसका पानी पूरी तरह खाली करें।

घरों के आसपास पानी एकत्रित होने वाली सभी अनुपयोगी वस्तुएं जैसे टीन के डब्बे, कॉच एव प्लास्टिक कीी बोतल, नारियल के खोल, पुराने टायर आदि नष्ट कर दें। बैठक में मुख्य नगर आयुक्त राहुल कुमार गोयल, सी एम एस प्रदीप चंदौला, डॉ संतोष कुमार (aiims, नोडल अधिकारी ), डॉ सौरभ जोशी (जिला मलेरिया अधिकारी ), डॉ एस एस यादव , विवेेक भंडारी (नगर पालिका, मुंकिरेती ), पार्षद विजय बडोनी, राजेंद्र प्रेम बिष्ट, शशांक सिंह, सफाई निरीक्षक संतोष गुसाई, अभिषेक मल्होत्रा, सुभाष सेमवाल आदि मोजूद रहे।

 

Latest News -
Continue Reading

More in देहरादून

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement

देश

देश

YouTube Channel Uttarakhand Today

Our YouTube Channel

Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
1 Share
Share via
Copy link