Connect with us

पिथौरागढ़ के मांझी लिख रहे कामयाबी की इबारत, गांव को सड़क से जोड़ने का प्रयास

पिथौरागढ़ के मांझी लिख रहे कामयाबी की इबारत, गांव को सड़क से जोड़ने का प्रयास

पिथौरागढ़

पिथौरागढ़ के मांझी लिख रहे कामयाबी की इबारत, गांव को सड़क से जोड़ने का प्रयास


पिथौरागढ़ जनपद के ग्रामसभा टुंडाचौड़ा में मांझी द माउंटेन मैन की तर्ज पर सड़क निर्माण का काम शुरू कर दिया। स्वयं के प्रयासों से इन लोगों ने आत्म निर्भर बन कामयाबी की इबारत लिखने का काम करते हुए महज 28 दिन में कई किलोमीटर मीटर सड़क का निर्माण कर दिया है। जिस कार्य की प्रदेश के लोगों जमकर सराहना भी कर रहे हैं।

उत्तराखंड पिथौरागढ़ के दूरस्थ ग्राम सभा टुंडा चौड़ा जिला मुख्यालय से लगभग 100 किलोमीटर दूर है। क्षेत्र में जिला मुख्यालय जाने के लिए एक ही सड़क है।

ग्रामीणों की बरसों से सड़क निर्माण के लिए मांग की जा रही थी। लेकिन किसी भी जनप्रतिनिधि ने इस ओर ध्यान नहीं दिया ऐसा नहीं कि गांव वालों ने कभी सड़क की मांग उठाई ही नहीं, गांव वासियों ने शासन से लेकर प्रशासन तक कई बार सड़क की मांग उठाई लेकिन गांव वालों के हाथ निराशा ही लगी।


पिछले वर्ष हुए ग्राम प्रधान के चुनाव के दौरान करीब 17 सालों से बाहरी प्रदेश में नौकरी कर रहे गोविंद सिंह बिष्ठ और पत्नी मनीष देवी नौकरी छोड़ कर आपने गांव पहुंचे। गांव के विकास के लिए ग्राम प्रधान का चुनाव लड़े। महिला सीट होने के कारण गोविंद सिंह की पत्नी मनीषा देवी ने चुनाव लड़ा और भारी बहुमत से विजय हासिल की।

एक पढ़ी-लिखी उम्मीदवार होने के कारण ग्राम प्रधान मनीषा देवी और उनके पति गोविंद सिंह ने गांव में आने के बाद वर्षों से विकास की अनदेखी झेल रहे गांव में 4 बड़े शीशी मार्गों का निर्माण, जल संरक्षण के लिए 4 तालाब और सैकड़ों छोटे गड्डो का निर्माण करवाया। साथ ही देश में विश्वव्यापी महामारी के उपरांत गांव पहुंचे युवाओं को प्रोत्साहित कर सड़क निर्माण की अलग जगाई।

गोविंद सिंह और उनकी पत्नी द्वारा प्रतिनिधित्व करते हुए युवाओं को आगे किया और पिछले 28 दिनों से गांव में सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है। इस सड़क निर्माण के दौरान आई कृषि भूमि को गांव वालों ने सड़क निर्माण के लिए दान कर एक मिसाल भी पेश भी की है।

सड़क निर्माण होने से आसपास के 4 गांव को इसका फायदा मिलेगा औऱ साथ ही राजकीय इंटर कॉलेज तक सड़क पहुंचने में सुविधा होगी। लगभग 3 किलोमीटर इस सड़क का निर्माण होना है जिसके अंतर्गत एक बाजार भी आता है।


गांव वासियों की मुहीम और रंग लाई जब मुख्यामंत्री त्रिवेंद्र रावत ने व समाजसेवी राम सिंह बिष्ट ने 2 जेसीबी सड़क कार्य के लिए मुहैया कराई जिससे गांव वालों में ओर जोश आ गया औऱ सड़क निर्माण कार्य तेजी से होने लगा है।

पिथौरागढ़ के मांझी लिख रहे कामयाबी की इबारत, गांव को सड़क से जोड़ने का प्रयास via @https://in.pinterest.com/uttarakhandtoday/
Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in पिथौरागढ़

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Our YouTube Channel
Advertisement
Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap