Connect with us

उत्तराखंडः दर्दनाक हादसे में बुझ गए 3 घरों के इकलौते चिराग, एक साथ जली चार बच्चों की चिता तो रो पड़ा पूरा गांव…

बागेश्वर

उत्तराखंडः दर्दनाक हादसे में बुझ गए 3 घरों के इकलौते चिराग, एक साथ जली चार बच्चों की चिता तो रो पड़ा पूरा गांव…

बागेश्वरः हंसी- खुशी घर से खेलने निकले बच्चों की घर में अनहोनी की खबर आए तो क्या आलम होगा ये सोचना भी दिल दहला देता है। ऐसा ही मामला बागेश्वर जिले से सामने आया है। यहां गोगिना में गधेरे में नहा रहे चार बच्चे डूब गए। हादसे में तीन घरों के इकलौते चिराग बुझ गए, चारों बच्चों की मौत हो गई। मंगलवार को जब चार बच्चों की एक साथ चिता जली तो पूरा गांव रो पड़ा। परिवार पर पहाड़ टूट गया है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार बागेश्वर जिले के कपकोट तहसील के गोगिना के पर्थी गधेरे यानी जलकुंड में चार किशोरों की डूबने से मौत हो गई। तीन किशोरों का शव स्थानीय लोगों ने सोमवार की शाम को ही निकाल लिया था। लेकिन एक शव को खोजने में घंटों लग गए। मंगलवार की सुबह प्रशासन की टीम ने चौथा शव भी निकाल लिया है। चारों किशोरों के शवों का पोस्टमार्टम भी घटना स्थल पर ही किया गया। वहीं एक साथ जब चार बच्चों की चिताएं जली तो हर कोई फूटफूट कर रो पड़ा। चार बच्चों में दो सगे भाई भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें:  उत्तराखंड: इस मशहूर स्कूल के प्रिंसिपल को दो साल की सजा, अमिताभ बच्चन ने भी की है यहां से पढ़ाई...

बताया जा रहा है कि गोगिना गांव के चार बच्चे अभिषेक (15) पुत्र त्रिलोक सिंह रौतेला, अजय (14) पुत्र नारायण सिंह रौतेला, पंकज(14) पुत्र दुर्गा सिंह टाकुली, विक्रम (13) पुत्र नारायण सिंह दानू सोमवार दोपहर पास स्थित पर्थी रौला (गधेरे) में नहा रहे थे। तालाब गहरा होने के कारण वे बाहर नहीं निकल पाए। जब देर तक बच्चे घर नहीं पहुंचे तो उनकी खोजबीन शुरू हुई। जिसके बाद ग्रामीणों ने तालाब से तीन युवकों के शवों को बाहर निकाला, लेकिन चौथे का पता नहीं चल पाया।

यह भी पढ़ें:  आफत की बारिश: प्रदेशभर में 88 सड़कें बंद, सड़क पर फंसे MLA, बिजली, संचार भी ठप...

सूचना के बाद एसडीआरएफ, पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर रवाना हुई। पुलिस ने शाम को ही तीन शवों को अपने कब्जे में ले लिया और चौथे की तलाश शुरू कर दी थी। काफी तालाश के बाद आज सुबह बच्चे का शव बरामद कर मौके पर ही पोस्टमार्टम कराया गया। बताया जा रहा है कि जान गंवाने वाले तीनों किशोर हल्द्वानी में रहकर पढ़ाई कर रहे थे और गर्मी की छुट्टी बिताने घर आए थे। एक साथ चार बच्चों के डूबने और तीन घरों के इकलौते चिराग बुझने की घटना ने लोगों को स्तब्ध कर दिया है।

उत्तराखंडः दर्दनाक हादसे में बुझ गए 3 घरों के इकलौते चिराग, एक साथ जली चार बच्चों की चिता तो रो पड़ा पूरा गांव… via @https://in.pinterest.com/uttarakhandtoday/
Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in बागेश्वर

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement IMG-20220611-WA0025
Our YouTube Channel
Advertisement IMG-20220611-WA0024
Advertisement IMG-20220612-WA0002
Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap